Thursday, January 28, 2016

UPTET SARKARI NAUKRI UP Teacher News Today -

UPTET SARKARI NAUKRI   UP Teacher News Today 



◆◆◆◆बृहस्पतिवार-28-01-2016◆◆◆◆
==============================
क्या दुआ करु मेरे अपनो के लिए ऐ_खुदा ..
बस यही दुआ है कि , मेरे अपने कभी किसी_दुआ के मोहताज न हो ..
==============================


NEWS WORLD✒: -1
पैंतालीस मुन्ना भाई और मिले, वेतन रोका, नोटिस
अमर उजाला ब्यूरो
हरदोई। बेसिक शिक्षा विभाग में फर्जी प्रमाण पत्र पर नियुक्ति पाने वाले मुन्ना भाइयों के मिलने का सिलसिला जारी है। वर्ष 2014 में फर्जी टीईटी प्रमाण पत्र पाए जाने पर 45 टीचरों को वेतन रोक नोटिस जारी किया गया है। साथ ही कार्रवाई की तैयारी भी शुरू हो गई है। बताते चले कि इससे पहले 38 मुन्ना भाई मिल चुके हैं। जिसमें 32 पर एफआईआर दर्ज है। उधर, इसस मामले से विभाग में हड़कंप है।
बेसिक शिक्षा अधिकारी डा. बृजेश मिश्र में 6 अगस्त 2014 को नियुक्त किए गए बीटीसी/ विशिष्ट बीटीसी एवं उर्दू बीटीसी के अंतर्गत जिले में विभिन्न विद्यालयों में तैनात 45 टीचरों का वेतन टीईटी 2011 का प्रमाण पत्र संदिग्ध मिलने पर वेतन रोक कर नोटिस जारी कर एक सप्ताह में जवाब मांगा है। इनमें बेंहदर ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय तुरनारूद्ध के टीचर हरवीर सिंह, सर्वे के सुनील सिंह, मडिलहा के मनोज कुमार मढ़िया के सौरभ सचान, मौलवी खेड़ा योगेंद्र सिंह, महमूदपुर लाल्ता के उमेश चंद्र यादव, बिलग्राम ब्लाक के सखेड़ा की कुमारी नीरज यादव, टड़ियावां के कोड़रा के राजेंद्र सिंह, भरावन के महसुआ के दिनेश कुमार, मंडौली के राम गोपाल सिंह, महुआ डांडा गीतम सिंह, कुकरा के रघुराज सिंह, हरपालपुर ब्लाक के लुलामऊ द्वितीय के टीचर मोहन सिंह बारी के सुरेंद्र सिंह, टिकार के विवेक कुमार यादव, मस्तापुर के मनोज कुमार, बरान के प्रेम चंद्र, महसूलापुर के मनोज कुमार, मिश्रनपुरवा के प्रमोद कुमार, किरतियापुर के माघवेंद्र सिंह, अहिरोरी ब्लाक के खद्दीपुर के दिनेश चंद्र, कुचौरा के हरेन्द्र पाल सिंह, टोडरपुर ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय कुसुमा के परवीन कुमार, मझिला के राजीव कुमार, मझौची के अरविंद कुमार, माधौपुर के राघवेंद्र सिंह, कुचीखेड़ा के हरीसिंह बछौर, संडीला ब्लाक के खुटेहना के बने सिंह, मदारपुर के जसवीर सिंह, सांडी ब्लाक के कुलिया के विनय कुमार, बहेलियनपुर के शिव कुमार, कुशलपुरवा के हरवीर सिंह, रजानी खेड़ा की शशि यादव, महितापुर के प्रेम सिंह, सेमरिया के धर्मवीर सिंह, भरखनी ब्लाक के मुंडेर की सुशीला कुमारी, कुंवरपुर के यतेंद्र, रामपुर लाल की पारुल बघेल,मल्लावां ब्लाक के मीर नगर की सपना,हरियावां के शाहपुर बिनौरा की ललिता यादव, शहजाद नगर की ममता सिंह, पिहानी ब्लाक के पिपरी की बीना वर्मा, कौड़ा के शिवकुमार, कोथावां ब्लाक के मालपुर के अरविंद कुमार और मनिकपुर के महेंद्र पाल शामिल है।
बेसिक शिक्षा अधिकारी डा. ब्रजेश मिश्र ने बताया कि सभी को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है। एक सप्ताह तक सही जवाब न देने पर सेवा समाप्त कर एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। इससे विभाग में हड़कंप मच गया।
तीन सदस्यीय टीम करेगी जांच
हरदोई। जिले में वर्ष 2015 में टीईटी के आधार पर मिले 38 मुन्ना भाइयों के मामले में जांच के लिए शिक्षा निदेशक राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद लखनऊ सर्वेंद्र विक्रम सिंह ने बीएसए की आख्या के आधार पर तीन सदस्यीय जांच टीम का गठन किया है। जिसमें संयुक्त शिक्षा निदेशक लखनऊ मंडल सुत्ता सिंह, उप शिक्षा निदेशक बेसिक शिक्षा निदेशालय लखनऊ गणेश कुमार और विधि अधिकारी परिषद मुख्यालय लखनऊ प्रदीप कुमार वर्मा शामिल है। शिक्षा निदेशक ने पांच फरवरी तक जांच की रिपोर्ट देने के निर्देश दिए है। इससे विभाग में हड़कंप मचा है।
टीईटी प्रमाणपत्रों का नहीं हो सका मिलान,
वर्ष 2014 में 315 टीचरों की नियुक्ति
वर्ष 2015 की नियुक्ति में मिले है 38 मुन्ना भाई,32 पर दर्ज हो चुकी है रिपोर्ट


NEWS WORLD✒: -2
रसोइया ने हेडमास्टर को बंधक बनाकर पीटा
मानदेय नहीं मिलने से परेशान थी
अमर उजाला ब्यूरो
पुरंदरपुर। सोहरवलिया कला के टोला दर्जीचक पंडितपुर के प्राथमिक विद्यालय के हेडमास्टर को वहां की रसोईया ने बंधक बना लिया और पिटाई की। मानदेय न मिलने से रसोईया परेशान थी। सौ नंबर सूचना के बाद पुलिस के पहुंचने पर मुक्त हेड मास्टर मुक्त हुए।
फरेन्दा क्षेत्र के सोहरविया कला टोला पंडिपतपुर दर्जीचक के प्राथमिक विद्यालय पर मंगलवार को साढ़े दस बजे झंडारोहण के बाद रसोईया ऊषा देवी ने मानदेय को लेकर राजकुमार मौर्या को बंधक बना लिया और पिटाई कर दी। हेड मास्टर ने सौ नंबर डायल किया तो पुरन्दरपुर पुलिस ने पहुंच कर उनको छुड़ाया और थाने पर लाई। ऊषा देवी को पिछले वित्तीय वर्ष में मात्र छह हजार रुपया मिला था। रसोईया का आरोप है कि तीन महीने से हेड मास्टर स्कूल पर नहीं आ रहे थे। घटना को लेकर अफरातफरी मच गई।
इस संबंध में हेड मास्टर राजकुमार मौर्या ने कुछ भी बोलने से इन्कार कर दिया। एसओ चंद्रेश यादव का कहना है कि हेडमास्टर को बंधक बनाने की खबर पुलिस कंट्रोल रुम से मिली। सूचना के पुलिस मौके पर पहुंची और उन्हें मुक्त कराया। तहरीर मिलने के बाद कार्रवाई की जाएगी।
कंट्रोल रूम की सूचना पर विद्यालय पहुंची पुलिस ने छुड़ाया
[4:33am, 1/28/2016] ✒अनुज सैनी🇮🇳NEWS WORLD✒: -3
छह वर्षों से ठप पड़ी है शिक्षक चयन प्रक्रिया
अमर उजाला ब्यूरो
इलाहाबाद। प्रदेश के माध्यमिक विद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति के लिए गठित उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड एवं अशासकीय डिग्री कॉलेजों में शिक्षकों की भर्ती के लिए गठित उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग में बीते छह वर्ष से अधिक समय से चयन प्रक्रिया ठप है। सरकार की ओर से मनमाने तरीके से इन भर्ती आयोगों में अध्यक्ष एवं सदस्यों की नियुक्ति किए जाने को कोर्ट में चुनौती दिए जाने और हाईकोर्ट से अध्यक्ष एवं सदस्यों की नियुक्ति को अवैध घोषित कर दिए जाने के बाद माध्यमिक एवं उच्च शिक्षा में भर्ती प्रक्रिया ठप पड़ गई है।
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड में 2009, 2010 के बाद टीजीटी-पीजीटी के किसी नए पद पर भर्ती नहीं हो सकी है। 2011 में घोषित टीजीटी-पीजीटी के पदों की घोषणा के बाद कोर्ट की ओर से रोक के कारण इन पदों पर भर्ती नहीं हो सकी है। लंबी कानूनी प्रक्रिया के बाद रोक हटी तो चयन बोर्ड में इस समय अध्यक्ष-सदस्य के न होने से काम ठप पड़ा है। 2013 में घोषित टीजीटी-पीजीटी के पदों के लिए जनवरी 2015 में परीक्षा तो कराई गई परंतु कानूनी अड़चन के कारण अभी तक परीक्षा परिणाम घोषित नहीं किया जा सका।
भर्ती आयोगों में अध्यक्ष सदस्यों के काम पर रोक एवं हटाए जाने के बाद काम ठप
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड एवं उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग में भर्ती प्रक्रिया पर लगा विराम


NEWS WORLD✒: -4
नियुक्ति के लिए सचिव का घेराव
इलाहाबाद (ब्यूरो)। प्रदेश के प्राथमिक विद्यालयों में 72825 शिक्षकों की नियुक्ति के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करने वाले 1100 अभ्यर्थियों ने बुधवार को सचिव बेसिक शिक्षा परिषद का घेराव किया। अभ्यर्थियों का कहना था कि 27 जनवरी तक अभ्यर्थियों की सूची ऑनलाइन नहीं की गई है। इन अभ्यर्थियों ने 28 जनवरी से सचिव बेसिक शिक्षा परिषद कार्यालय पर धरना देने का निर्णय लिया है। घेराव करने वालों में संजीव मिश्र, विनोद वर्मा, नवीन, सुशील सहित बड़ी संख्या में लोग शामिल रहे।


NEWS WORLD✒: -5
आगरा के बीआर अंबेडकर विवि में एसआईटी की कार्रवाई
फर्जी मार्क्सशीट मामले में बाबू लखनऊ से गिरफ्तार
अमर उजाला ब्यूरो
आगरा/लखनऊ। डॉ. बीआर अंबेडकर यूनिवर्सिटी के चर्चित फर्जी मार्क्सशीट प्रकरण में आरोपियों की गिरफ्तारी शुरू हो गई है। स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम ने यूनिवर्सिटी के खंदारी कैंपस में तैनात क्लर्क रणवीर सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। उसे लखनऊ में कोर्ट में पेश किया गया। वहां से जेल भेज दिया गया।
रणवीर सिंह मूलरूप से फीरोजाबाद के रहने वाले हैं। मुकदमा अपराध संख्या तीन /2014 में उन्हें आरोपी पाया गया था। रणवीर सिंह 2005 से 2015 तक बीएड सेक्शन में तैनात रहे हैं। इस दौरान जाली मार्क्सशीट बेची गईं। इनका रिकार्ड गोपनीय चार्ट में दर्ज किया गया।
यह केस धोखाधड़ी और जालसाजी की धाराओं में दर्ज किया गया था। इसकी विवेचना पहले आगरा पुलिस ने की, लेकिन बाद में केस एसआईटी को ट्रांसफर कर दिया गया। मामले के विवेचक निरीक्षक पुतान सिंह ने पूछताछ व बयान दर्ज करने के लिए रणवीर को एसआईटी मुख्यालय लखनऊ बुलाया था। वहीं से उसे गिरफ्तार कर लिया गया।
अब निशाने पर 20 कर्मचारी और 10 अधिकारी
एक लिपिक की गिरफ्तारी के बाद एसआईटी की तैयारी 20 कर्मचारी और 10 अधिकारियों पर कार्रवाई करने की है। इनके खिलाफ केस पहले से दर्ज हैं। आगरा पुलिस ने इन्हें क्लीन चिट दे दी थी, लेकिन एसआईटी ने इनके खिलाफ साक्ष्य जुटा लिए। पहले इन मामलों की सुनवाई आगरा कोर्ट में हो रही थी, लेकिन अब सभी केस लखनऊ ट्रांसफर किए जा चुके हैं। इसके बाद ही एसआईटी एक्शन में आई है।
2005 से 2009 तक बीएड की फर्जी मार्कशीट बेचे जाने की जांच पहले आगरा पुलिस को दी गई थी। तब पुलिस ने छह केस दर्ज किए थे। इनमें यूनिवर्सिटी के 10 अधिकारी और 20 कर्मचारी आरोपी बनाए गए थे। इनमें विश्वविद्यालय के तत्कालीन उपाध्यक्ष अवतार सिंह कुकला और रजिस्ट्रार शिवपूजन सिंह व कई अन्य नामजद हुए थे। मामले के मुख्य आरोपी तत्कालीन उपाध्यक्ष की कुछ अरसा पहले मृत्यु हो चुकी है जबकि तत्कालीन रजिस्ट्रार पिछले करीब डेढ़ वर्ष से फरार चल रहे हैं।


NEWS WORLD✒: -6
बीपीएड डिग्री धारकों ने सरकार को वादा याद दिलाया
लखनऊ। प्रशिक्षित बीपीएड संघर्ष मोर्चा के बैनर तले प्रदेश भर से जुटे बीपीएड डिग्री धारकों ने बुधवार को स्थायी नियुक्ति के लिए किए गए सरकार केवादे की याद दिलाई।
अनिश्चतकालीन धरने पर अड़े बीपीएड डिग्री धारकों को एसीएम प्रथम की ओर से मुख्यमंत्री से एक सप्ताह के अंदर वार्ता कराने का आश्वासन देने केबाद धरना स्थगित कर दिया गया।46 हजार उच्च प्राथमिक विद्यालयों में शारीरिक शिक्षकों के पद पर स्थायी नियुक्ति देने और एक सितंबर 2015 को हुए आंदोलन में 101 नामजद लोगों पर से मुकदमा वापस लेने को लेकर बीपीएड डिग्री धारक लक्ष्मण मेला मैदान में जुटे थे।


NEWS WORLD✒: -7
बिना परीक्षा कांस्टेबलों की भर्ती पर उठे सवाल
इलाहाबाद (ब्यूरो)। सूबे में बिना परीक्षा कराए पुलिस कांस्टेबलों की भर्ती कराने की सरकार की नई नीति को हाईकोर्ट में चुनौती दी गई है। याचिका दाखिल कर सरकार द्वारा भर्ती प्रक्रिया में किए गए संशोधन को चुनौती दी गई है। मुख्य न्यायाधीश डॉ. डीवाई चंद्रचूड की अध्यक्षता वाली पीठ ने प्रदेश सरकार को इस मामले में चार सप्ताह में जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है। पूछा है कि पहले से चली आ रही भर्ती प्रक्रिया में संशोधन कर नया नियम बनाने की आवश्यकता क्यों पड़ी। मामले की गंभीरता के मद्देनजर कोर्ट ने महाधिवक्ता को भी नोटिस जारी कर सरकार का पक्ष रखने का निर्देश दिया है।
रणविजय सिंह और कई अन्य याचिका दाखिल कर कहा है कि पुलिस विभाग में सिपाही का पद बेहद महत्वपूर्ण है। इस पद पर भर्ती के लिए अभ्यर्थी की योग्यता का विधिवत परीक्षण कर चयन करना आवश्यक है। पूर्व में भर्ती के लिए लिखित परीक्षा, रीजनिंग टेस्ट, मानसिक योग्यता और शारीरिक दक्षता, साक्षात्कार आदि कई चरणों में परीक्षा लेकर चयन का नियम है। प्रदेश सरकार ने वर्ष 2015 में इस नियम को संशोधित करते हुए नया नियम बना दिया है। अब सिपाहियों की भर्ती मात्र उनके हाईस्कूल और इंटरमीडिएट प्राप्तांक के आधार पर तैयार मेरिट से होगी। शारीरिक दक्षता के नाम पर साढ़े चार किलोमीटर दौड़ भी होगी। इससे व्यापक पैमाने पर धांधली की आशंका है तथा योग्य अभ्यर्थियों का चयन नहीं हो सकेगा। याचिका में संशोधित नियमावली को रद्द करने की मांग की गई है। इस मामले में चार सप्ताह के बाद सुनवाई होगी।


NEWS WORLD✒: -8
सीटीईटी 21 को एडमिट कार्ड जारी
राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा यानी सीबीएसई बोर्ड ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर सेंट्रल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट (सीटीईटी) के लिए ऑनलाइन एडमिट कार्ड जारी कर दिए हैं। परीक्षार्थी इन्हें डाउन लोड कर सकते हैं। इस परीक्षा का आयोजन 21 फरवरी को किया जाएगा। इस बार भी सीबीएसई की सीटीईटी परीक्षा में दो पेपर होंगे। पहला पेपर उन परीक्षार्थियों के लिए होगा जो कक्षा एक से लेकर 5वीं तक को पढ़ाना चाहते हैं और दूसरा पेपर कक्षा छह से लेकर 8वीं तक को पढ़ाने के लिए पात्रता हासिल करना चाहते हैं। सीबीएसई ने परीक्षा केंद्रों का भी चयन कर लिया है।


✒: -
20 हजार संविदा ड्राइवरों-कंडक्टरों का पारिश्रमिक बढ़ा
लखनऊ (ब्यूरो)। उप्र राज्य सड़क परिवहन निगम ने 20 हजार संविदा ड्राइवरों एवं कंडक्टरों का बुधवार को पारिश्रमिक बढ़ाने का फैसला किया है। निगम ने इनके पारिश्रमिक में नौ पैसा प्रति किमी के रेट से बढ़ोतरी की है। नया रेट एक फरवरी से प्रदेश भर में लागू होगा।
परिवहन निगम के प्रबंध निदेशक के.रवींद्र नायक ने ड्राइवरों एवं कंडक्टरों के बढ़े हुए पारिश्रमिक के सिलसिले में बुधवार को सभी क्षेत्रीय प्रबंधकों को आदेश का सरकुलर भेज दिया है। एक फरवरी से इन्हें 1.26 रुपये प्रति किमी के रेट से पारिश्रमिक का भुगतान किया जाएगा। अभी तक यह 1.17 रुपये प्रति किमी के रेट से दिया जाता है। निगम ने इससे पहले अक्टूबर 




2014 में ड्राइवरों एवं कंडक्टरों का पारिश्रमिक बढ़ाया था।

: -10


धूप भी नहीं तोड़ पाई ठंड का गुरूर 28
सहारनपुर : लगातार कोहरे की मार ङोल रहे लोगों को बुधवार को भी कोई राहत नहीं मिली। हालांकि बुधवार को सूर्य भगवान ने दर्शन देकर लोगों को राहत जरूर दी, लेकिन धूप ठंड का गुरूर नहीं तोड पाई। न्यूनतम तापमान एक डिग्री पर ही बना रहा वहीं अधिकतम तापमान 17 डिग्री दर्ज किया गया। बुधवार को कोहरा नहीं होने के कारण सुबह की धूप खिलने लगी थी। बादलों के कारण धूप छांव के साथ दिन की शुरूआत हुई, नौ बजते बजते पूरी तरह से धूप खिल गई थी। दिनभर चलने वाली बर्फीली हवाओं पारे का सुधरने का मौका नहीं दिया। मौसम विशेषज्ञ अभी ठंड से राहत नहीं मिलने की चेतावनी दे रहे है। उनका कहना है कि पाला व कोहरा अभी कुछ दिन तक लोगों को परेशान करने वाला है।सहारनपुर : लगातार कोहरे की मार ङोल रहे लोगों को बुधवार को भी कोई राहत नहीं मिली। हालांकि बुधवार को सूर्य भगवान ने दर्शन देकर लोगों को राहत जरूर दी, लेकिन धूप ठंड का गुरूर नहीं तोड पाई। न्यूनतम तापमान एक डिग्री पर ही बना रहा वहीं अधिकतम तापमान 17 डिग्री दर्ज किया गया। बुधवार को कोहरा नहीं होने के कारण सुबह की धूप खिलने लगी थी। बादलों के कारण धूप छांव के साथ दिन की शुरूआत हुई, नौ बजते बजते पूरी तरह से धूप खिल गई थी। दिनभर चलने वाली बर्फीली हवाओं पारे का सुधरने का मौका नहीं दिया। मौसम विशेषज्ञ अभी ठंड से राहत नहीं मिलने की चेतावनी दे रहे है। उनका कहना है कि पाला व कोहरा अभी कुछ दिन तक लोगों को परेशान करने वाला है।
[5:08am, 1/28/2016] ✒अनुज सैनी🇮🇳NEWS WORLD✒: -11
होम एग्जाम की कापियों पर बोर्ड के प्रैक्टिकल 20
सहारनपुर : यूपी बोर्ड की कापियों पर नहीं, बल्कि होम एग्जाम की कापियों पर हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की प्रयोगात्मक परीक्षाएं कराई जा रही हैं। बोर्ड के परीक्षा शुल्क वसूलने के बावजूद कापियां का खर्च कालेज उठाने को मजबूर हैं। हद तो यह है कि ये कापियां बोर्ड कार्यालय को नहीं भेजी जातीं। परीक्षा के प्राप्तांक का विवरण ही संबंधित परीक्षक व कालेज से बोर्ड को भेजा जाता है। इस बार 18 फरवरी से शुरू हो रही बोर्ड परीक्षाओं के लिए माध्यमिक शिक्षा परिषद की तैयारी को अंतिम रूप दिया जा रहा है। संकलन केन्द्रों पर बोर्ड परीक्षा सामग्री भेजने की प्रक्रिया गतिमान है। जिले मे इंटरमीडिएट की प्रयोगात्मक परीक्षाएं द्वितीय चरण में पांच जनवरी से आरंभ हुई थीं। परीक्षाओं के लिए बोर्ड से कापियां कालेजों को उपलब्ध नहीं कराई जाती, बल्कि परीक्षाएं होम एग्जाम की कापियों पर कराई जाती हैं, जिनके खर्च का भार संबंधित कालेज को उठाना पड़ता है। प्रधानाचार्यो का कहना है कि कई वर्षो से यही व्यवस्था चल रही है। कई बार बोर्ड को इस बारे में अवगत कराया गया है, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला।1परीक्षा को अधिकृत कालेज-परीक्षक1हाईस्कूल की प्रयोगात्मक परीक्षाएं कालेज स्तर पर आंतरिक परीक्षक से कराई जाती है। संबंधित विषय में 70:30 के रेशियो से यह परीक्षा होती है। यानी लिखित परीक्षा 70 अंक तथा प्रयोगात्मक 30 अंक की होती है। कापी चेकिंग के बाद प्राप्तांक बोर्ड को भेजने का जिम्मा कालेज का होता है। इंटरमीडिएट प्रयोगात्मक विषयों में निर्धारित पूर्णाक में से 50 प्रतिशत अंक आंतरिक परीक्षक से तथा 50 प्रतिशत अंक वाह्य परीक्षक से मिलते हैं। व्यक्तिगत परीक्षार्थियों के लिए जो विद्यालय प्रयोगात्मक परीक्षा हेतु केन्द्र निर्धारित किए गए हैं उनमें संबंधित विषयों के अध्यापक 50 प्रतिशत अंक आंतरिक मूल्यांकन में तथा शेष 50 प्रतिशत वाह्य परीक्षक की ओर से दिए जाते हैं।1बोर्ड नहीं जातीं प्रयोगात्मक की कापियां1कालेज व परीक्षक बोर्ड को केवल परीक्षार्थीवार परीक्षा के अंक भेजते हैं, कापियां नहीं। सूत्रों का कहना है कि इंटरमीडिएट की कापियां संबंधित परीक्षक या तो साथ ले जाते हैं अथवा कई बार कालेज में ही छोड़ देते हैं। ऐसे में यदि कोई छात्र बोर्ड से आरटीआइ के अंतर्गत कॉपी की फोटो प्रति मांग ले तो वह उसे उपलब्ध नहीं हो सकेगी।1इंटरमीडिएट की प्रयोगात्मक परीक्षाएं1भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान, भूगोल, कृषि, गृहविज्ञान, सिलाई, खेल एवं शारीरिक शिक्षा।1इनका कहना है..1जिला विद्यालय निरीक्षक आरके तिवारी का कहना है कि प्रयोगात्मक परीक्षाओं के दौरान बोर्ड की कापी उपलब्ध नहीं होती। लिखित परीक्षा के लिए ही बोर्ड कापियां उपलब्ध कराता है। इसी कारण प्रयोगात्मक परीक्षाएं कालेजों की कापियों पर होती हैं। कापियों बोर्ड को न भेजे जाने के सवाल पर उनका कहना था कि यह जिम्मेदारी संबंधित कालेज व परीक्षक की होती है।

 UPTET  / टीईटी TET - Teacher EligibilityTest Updates /   Teacher Recruitment  / शिक्षक भर्ती /  SARKARI NAUKRI NEWS  
UP-TET 201172825 Teacher Recruitment,Teacher Eligibility Test (TET), 72825 teacher vacancy in up latest news join blog , UPTET , SARKARI NAUKRI NEWS, SARKARI NAUKRI
Read more: http://naukri-recruitment-result.blogspot.com
http://joinuptet.blogspot.com
 Shiksha Mitra | Shiksha Mitra Latest News | UPTET 72825 Latest Breaking News Appointment / Joining Letter | Join UPTET Uptet | Uptet news | 72825  Primary Teacher Recruitment Uptet Latest News | 72825  Teacher Recruitment Uptet Breaking News | 72825  Primary Teacher Recruitment Uptet Fastest News | Uptet Result 2014 | Only4uptet | 72825  Teacher Recruitment  Uptet News Hindi | 72825  Teacher Recruitment  Uptet Merit cutoff/counseling Rank District-wise Final List / th Counseling Supreme Court Order Teacher Recruitment / UPTET 72825 Appointment Letter on 19 January 2015A | 29334 Junior High School Science Math Teacher Recruitment,

CTETTEACHER ELIGIBILITY TEST (TET)NCTERTEUPTETHTETJTET / Jharkhand TETOTET / Odisha TET  ,
Rajasthan TET /  RTET,  BETET / Bihar TET,   PSTET / Punjab State Teacher Eligibility TestWest Bengal TET / WBTETMPTET / Madhya Pradesh TETASSAM TET / ATET
UTET / Uttrakhand TET , GTET / Gujarat TET , TNTET / Tamilnadu TET APTET / Andhra Pradesh TET , CGTET / Chattisgarh TETHPTET / Himachal Pradesh TET